Uncategorized

Azam Khan: आजम खां की जौहर यूनिवर्सिटी में दीवार तोड़कर निकालीं गई पुरानी किताबें, जमीन में गड़ी मिली मशीनें

Listen to this article

मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी में सोमवार की रात सर्च अभियान जारी रहा। रिमांड पर लिए गए अनवार और सालिम के साथ पुलिस ने यूनिवर्सिटी की कई इमारतों में तलाशी अभियान चलाया। परिसर में कई जगह खुदाई भी की गई।

जौहर यूनिवर्सिटी दीवार तोड़कर निकलीं गई पुरानी किताबें
पुलिस सूत्रों की माने तो सर्च ऑपरेशन में कई ऐसी वस्तुएं मिलीं हैं, जो मिसिंग थीं। इसका खुलासा पुलिस मंगलवार को कर सकती है। पुलिस की ओर से मीडिया को जौहर यूनिवर्सिटी में बुलाया गया है। पुलिस ने जौहर यूनिवर्सिटी की कैम्पस के अंदर एक बिल्डिंग की दीवार तोड़कर पुरानी किताबों का जखीरा बरामद किया है। पुलिस के मुताबिक इसमें कई बहुमूल्य पांडुलिपियां शामिल हैं।

पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि क्या इसमें मदरसा आलिया से चोरी की गई किताबें भी शामिल हैं। मदरसा आलिया की किताबें चोरी करने के मामले में पहले से ही रिपोर्ट दर्ज है। सोमवार को पुलिस ने जौहर यूनिवर्सिटी के परिसर में खुदाई के बाद पालिका की सफाई मशीन बरामद की थी। इस मामले में आजम खां और उनके पुत्र अब्दुल्ला आज़म सहित 7 के खिलाफ रोपोर्ट दर्ज की गई थी।

जौहर विवि में खोदकर निकाली पालिका की सफाई मशीन, आजम-अब्दुल्ला सहित सात पर रिपोर्ट दर्ज
आपको बता दें कि शहर में सफाई के लिए मंगाई गई  नगर पालिका मशीन आजम खां की जौहर यूनिवर्सिटी में गड्ढे में दबी मिली है। पुलिस ने इस मामले में वाकर अली खां की तहरीर के आधार पर सपा नेता आजम खां, उनके पुत्र विधायक अब्दुल्ला आजम, पूर्व पालिकाध्यक्ष अजहर खां, सुल्तान मोहम्मद खान, अनवार हुसैन, सालिम और तालिब के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

पालिका की नहीं है जौहर यूनिवर्सिटी में मिली मशीनः फात्मा जबीं

पालिकाध्यक्ष फात्मा जबीं ने कहा है कि जौहर यूनिवर्सिटी में मिली मशीनें पालिका की नहीं है। उन्होंने कहा कि पालिका की जितनी भी मशीनें हैं, सभी कार्यशाला में मौजूद हैं। जिसका सत्यापन कभी भी किया जा सकता है।

पुलिस ने सोमवार को जौहर यूनिवर्सिटी में खुदाई के दौरान मिली मशीन को पालिका का होने का दावा किया था और इस आरोप में आजम खां और अब्दुल्ला आजम सहित सात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज कर ली गई है। मंगलवार को पालिकाध्यक्ष ने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा है कि पालिका किसी भी संस्था में सफाई का कार्य नहीं करती है।

पालिका केवल अपनी सीमा के अंदर अपने संसाधानों से सफाई कराती है। उन्होंने कहा कि शासन के निर्देश के मुताबिक सवेरा नगर विकास योजना के अंतर्गत 13 अगस्त 2013 को दो कंपेक्टर मशीन, दो रोड स्वीपिंग मशीन और एक सीवर जैटिंग मशीन खरीदने के लिए धनराशि प्राप्त हुई थी।

इसके बाद नियमानुसार निविदा आमंत्रित कर मशीनें खरीदी गईं थीं। सभी मशीनें पालिका में उपलब्ध हैं। उन्होंने इस बात को पूरी तरह से गलत बताया कि जौहर यूनिवर्सिटी में पालिका की कोई मशीन है। पालिकाध्यक्ष ने दावा किया कि पालिका की ओर से कभी भी कोई मशीन किसी भी कार्य के लिए जौहर यूनिवर्सिटी नहीं भेजी गई है।

 

Show More

Related Articles

Back to top button
उत्तराखंड
राज्य
वीडियो