News Article

सावधान! कहीं आप भी तो नहीं खा रहे Plastic Rice, ऐसे करें नकली चावल की पहचान…

Listen to this article

आजकल बाजार में मिलावट बढ़ती जा रही है। खाद्य सामग्री को मिलावट के जरिए तैयार किया जाता है, जिसे लोग बाजार से खरीद लाते हैं और उनकी गुणवत्ता परखे बिना सेवन करते हैं। इस तरह की मिलावट वाली खाद्य सामग्रियां सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक हैं। दूध में पानी मिलाना सामान्य मिलावट है लेकिन जो चावल हमारी रसोई में रोजाना पकता है और उसे घर के सभी लोग स्वाद लेकर खाते हैं, वह भी मिलावटी हो सकता है। इन दिनों बाजार में निकली चावल बिक रहे हैं। लोगों को पता भी नहीं कि जो चावल वह खा रहे हैं, वह प्लास्टिक के हो सकते हैं। प्लास्टिक के चावल देखने में असली चावल की तरह ही दिखते हैं। पकने के बाद भी प्लास्टिक के चावल की पहचान नहीं की जा सकती है। ऐसे में लोग अनजाने में सेहत के लिए बहुत खतरनाक चीज का सेवन कर रहे हैं। कहीं आप भी नकली या प्लास्टिक के चावल तो नहीं खा रहे, इसकी पहचान करने के लिए यहां कुछ टिप्स दिए जा रहे हैं। आसान तरीके से घर पर करें असली और नकली चावल की पहचान।

चावल को जलाएं:

बाजार से लाए चावल की गुणवत्ता जांचना है तो पहले थोड़े से चावल लेकर उन्हें जलाएं। अगर चावल के जलने के बाद प्लास्टिक की खुशबू आती है, तो समझ जाएं कि यह नकली चावल हैं। चाहें तो चावल का पानी यानी माड़ गाढ़ा करके भी उसे जलाकर देख सकते हैं। अगर माड़ प्लास्टिक की तरह जलने लगे तो वह नकली हैं।

चावल में चूना मिलाएं:

थोड़े से चावल को एक बर्तन में निकालें। चूना और पानी का घोल बना लें। इस घोल में चावलों को कुछ देर भिगोकर छोड़ दें। अगर चावल का रंग बदलने लगे या रंग छोड़ने लगे तो समझ जाइए कि चावल नकली हैं।

पानी से चावल की पहचान:

असली और नकली चावल की पहचान के लिए एक चम्मच चावल को एक गिलास पानी में डालें। कुछ देर में अगर चावल पानी में डूब जाए तो वह असली है और अगर चावल पानी में ऊपर की ओर तैरने लगे तो वह नकली चावल है, क्योंकि प्लास्टिक कभी पानी में नहीं डूबती है।

Show More

Related Articles

Back to top button
उत्तराखंड
राज्य
वीडियो