News Articleउत्तराखंडदेहरादूनफीचर्ड

चारधाम यात्रा हुई महंगी, दो साल बाद बढ़ा किराया, जानें कितनी हुई बढ़ोतरी

Listen to this article

Dehradun : उत्तराखंड में अब चारधाम यात्रा के लिए श्रद्धालुओं को ज्यादा पैसा देना होगा। परिवहन मुख्यालय ने चारधाम यात्रा मार्गों पर संचालित होने वाली विशेष या अस्थायी परमिट बसों के किराये की नई दरें जारी कर दी हैं, जिसमें 15 से 20 रुपये की बढ़ोतरी की गई है।

20 सीट क्षमता तक वाली बसों का किराया 55 रुपये से बढ़ाकर 70 रुपये प्रति किमी हो गया है। 21 से 30 सीट क्षमता वाली साधारण बस का किराया 50 से बढ़ाकर 63 रुपये, डीलक्स पुश बैक बस का किराया 60 से बढ़ाकर 76 रुपये और एसी बस का किराया 70 से बढ़ाकर 89 रुपये प्रति किलोमीटर किया गया है।31 से 45 सीट क्षमता वाली साधारण बसों का किराया 60 से बढ़ाकर 76 रुपये, डीलक्स पुश बैक का 65 से बढ़ाकर 83 रुपये और एसी बसों का किराया 75 से बढ़ाकर 90 रुपये प्रति किलोमीटर कर दिया गया है। प्रतिदिन के प्रतीक्षा शुल्क में कोई बदलाव नहीं किया गया है। प्रतीक्षा शुल्क वाहनों के अनुसार 3500 रुपये से लेकर सात हजार रुपये तक ही रहेगा।

बता दें कि दो दिन पहले हुई राज्य परिवहन प्राधिकरण (एसटीए) की बैठक के बाद आज शुक्रवार को परिवहन मुख्यालय ने सभी तरह के वाहनों के किराये की नई दरें जारी कर दीं। 18 फरवरी 2020 के बाद शुक्रवार को दरों में बढ़ोतरी हुई है।

Show More

Related Articles

Back to top button
उत्तराखंड
राज्य
वीडियो