News Articleउत्तराखंडक्राइमदेहरादून

कार के खाई में गिरने से एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत, चार दिन बाद दुल्हन बनने वाली थी पिंकी

Listen to this article

Dehradun : ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर तोताघाटी में कार के खाई में गिरने से चमोली जिले के बांक गांव निवासी एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत हो गई। मृतकों में वाहन चालक, उसकी पत्नी व दो बच्चे और उसकी भांजी शामिल है। हादसे का शिकार हुआ परिवार मेरठ से शादी की खरीददारी कर घर लौट रहा था। हादसे में चार दिन बाद दुल्हन बनने जा रही युवती की भी जान चली गई है।

रविवार सुबह करीब छह बजे देवप्रयाग से करीब 25 किलोमीटर आगे ऋषिकेश की ओर तोताघाटी के समीप एक कार अनियंत्रित होकर करीब ढाई सौ मीटर नीचे गंगा नदी किनारे जा गिरी। खड़ी चट्टान में गिरने से कार के परखच्चे उड़ गए। दुर्घटना की सूचना मिलते ही राजस्व पुलिस, स्थानीय पुलिस और एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची। कार सवारों की तलाश में बचाव दल खाई में उतरा। खाई में जगह-जगह बचाव दल ने पांच शव बरामद किए।

थाना प्रभारी देवराज शर्मा ने बताया कि महिला के शव को रस्सों के जरिए खाई से खींचकर सड़क तक पहुंचाया गया, जबकि अन्य शवों को राफ्ट के जरिये कौड़ियाला तक लाया गया। दुर्घटना में चमोली जिले के बांक गांव (थराली) निवासी प्रताप सिंह (40) पुत्र देव सिंह, उनकी पत्नी भागीरथी देवी (36), बेटा विजय सिंह (15) व बेटी मंजू (12) और भांजी पिंकी (25) पुत्री त्रिलोक सिंह की मौत हुई है।

तहसीलदार मानवेंद्र बर्त्वाल ने बताया कि 12 मई को पिंकी की शादी थी। शादी का सामान लेने वह अपने मामा के परिवार के साथ मेरठ गई थी, जहां से वे शनिवार रात घर के लिए रवाना हुए। आशंका है कि नींद की झपकी की वजह से यह हादसा हुआ होगा।

Show More

Related Articles

Back to top button
उत्तराखंड
राज्य
वीडियो