News Articleक्राइम

भदोही अग्निकांड में बुझे कई घरों के चिराग: पूर्व प्रधान के परिवार के 8 लोग झुलसे, तीन की हो चुकी है मौत

Listen to this article

भदोही अग्निकांड की हृदय विदारक कहानियां अब सामने आने लगीं हैं। आरती के दौरान पूजा पंडाल में लगी आग ने ऐसा कहर ढाया कि कई घरों के चिराग तक इस आंच में बुझ गए। भदोही- औराई मार्ग पर स्थित दुर्गा पंडाल में भीषण आग ने पूरे जिले को झकझोर कर रख दिया है। जेठूपुर के दीपक सेठ के इकलौते बेटे अंकुश सोनी (10) की जहां मौत हो गई है। वहीं बारीगांव के पूर्व प्रधान रमापति की पत्नी और दो पोतों की जान जा चुकी है। जबकि पांच से अधिक बच्चों का अस्पतालों में उपचार चल रहा है।

औराई स्थित पूजा पंडाल में आसपास के दर्जन भर गांव के लोग बच्चों संग आरती और डिजिटल शो देखने पहुंचे थे। इसी दौरान अचानक लगी आग ने कुछ ही क्षण में इतना विकराल रूप धारण कर लिया कि पूरा पंडाल ही जलकर स्वाहा हो गया। देखते ही देखते जान बचाकर भाग रहे लोगों पर पंडाल की आग ऊपर से गिरने लगी।

पंडाल के अंदर चीख-पुकार और अफरातफरी मच गई। इससे कई महिलाएं और बच्चे गिर गए। आग तेजी से फैली और उसके चपेट में सभी आ गए। इस हादसे में सबसे अधिक जेठूपुर, बारीगांव और सेऊर गांव के लोग प्रभावित हुए हैं। जेठूपुर के करीब 12, बारीगांव के 25 और सेऊर के 15 लोग अग्निकांड के शिकार हुए हैं।

Show More

Related Articles

Back to top button
उत्तराखंड
राज्य
वीडियो