क्राइमचंडीगढ़

Mohali Video Leak: अश्लील वीडियो भेजने के पीछे दोस्ती या फिर ब्लैकमेल का खेल? जानें पूरा मामला..

Listen to this article

मोहाली वीडियो लीक कांड का बवाल रविवार आधी रात को थम गया। प्रशासन और कॉलेज प्रबंधन ने प्रदर्शनकारी छात्रों की सभी मांगें मान ली। इसके अनुसार धरना प्रदर्शन में शामिल किसी छात्र पर कोई कार्रवाई नहीं होगी। हॉस्टल वार्डन बदल दिए जाएंगे।

वहीं यूनिवर्सिटी भी हफ्ते भर के लिए बंद कर दी गई है। हॉस्टल की टाइमिंग भी बदल गई है। घबराए छात्र कैंपस छोड़ रहे हैं। इसके साथ ही लड़िकयों के हॉस्टल में पहनावे पर कोई पाबंदी नहीं लगाई जाएगी। लड़कियों के अभिभावक उन्हें घर ले जाने के लिए देर रात ही यूनिवर्सिटी पहुंच गए थे। सुबह से ही यूनिवर्सिटी कैंपस से बच्चों के जाने का सिलसिला जारी है। वहीं आरोपी छात्रा और उसके दोस्त से पूछताछ जारी है। इसके अलावा हिमाचल से एक और युवक को इस मामले में हिरासत में लिया गया है। हालांकि सबसे बड़ा सवाल अब भी कायम है कि आखिर एमबीए में पढ़ने वाली छात्रा ने इस तरह का काम क्यों किया।

क्या है पूरा मामला?

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में कुछ छात्राओं के नहाते हुए वीडियो वायरल होने की खबर फैलने के बाद शनिवार आधी रात से छात्रों ने जोरदार विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया जो रविवार को भी दिनभर जारी रहा। वहीं पुलिस ने इस मामले में वीडियो शूट कर शिमला में अपने दोस्त को भेजने के आरोप में एक छात्रा के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है।

दरअसल, छात्राओं के वीडियो वायरल करने की आरोपी छात्रा और युवक सनी मेहतो की दोस्ती शिमला के रोहड़ू में हुई थी। लंबे समय से वे फोन से एक दूसरे के संपर्क में थे। वहीं इस मामले के बाद अब पुलिस छानबीन कर रही है कि आखिर छात्रा सनी को ऐसे वीडियो क्यों भेजती थी। साथ ही पुलिस इस मामले की बारीकियों को भी छान रही है कि दोनों में दोस्ती ही है या युवक छात्रा को ब्लैकमेल कर रहा था।

बताते चलें कि खंगटेड़ी गांव का रहने वाला आरोपी युवक रोहडू में बेकरी की दुकान पर कार्य करता है। फिलहाल हिमाचल पुलिस सनी के भाई से भी पूछताछ कर रही है। वहीं, शिमला के ढली से भी एक 31 वर्षीय युवक को हिरासत में लिया गया है। इस मामले से हर कोई स्तब्ध है।

Show More

Related Articles

Back to top button
उत्तराखंड
राज्य
वीडियो