Weather updateउत्तराखंड

तबाही वाली बारिश: यहां मकान ढहने से मलबे में जिंदा दफन हुई महिला, और फिर…

Listen to this article

इन दिनों देवभूमि उत्तराखंड में मौसम काफी तेजाब दिखा रहा है जिसके चलते आए दिन बारिश होती देखी जा रही है। प्रदेश में भारी बारिश के मद्देनजर मौसम विभाग की ओर से येलो अलर्ट जारी किया गया है। इस बीच बुधवार रात हुई बारिश तबाही लेकर आई। उत्तरकाशी चिन्यालीसौड में ग्राम कुमराडा के मुंडरा थोला तोक में एक आवासीय भवन क्षतिग्रस्त होने से 75 वर्षीय वृद्धा भडडू देवी की मलबे में दबने से मौत हो गई।

रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड राष्ट्रीय राजमार्ग फाटा के समीप तरसाली में भारी मलबा आने से बाधित हो गया है, जिस कारण वाहनों की दो तरफा लंबी कतार लग गई है। प्रशासन और पुलिस द्वारा केदारनाथ यात्रा के यात्रियों को नजदीकी स्थानों पर रूकने के लिए कहा जा रहा है। बुधवार देर शाम को हुई तेज बारिश से लगभग छह बजे हाईवे तरसाली के समीप पहाड़ी से भारी मात्रा में मलबा, बोल्डर और पेड़ों के गिरने से बंद हो गया। इस दौरान एनएच द्वारा मलबा सफाई का प्रयास किया गया। लेकिन लगातार हो रही बारिश और पहाड़ी से गिर रहे टनों मलबा के बीच अंधेरा होने से हाईवे खोलना अभी संभव नहीं है।

कहां रुकेंगे केदारनाथ जाने वाले यात्री?

पुलिस के अनुसार, मौसम ठीक रहा तो बृहस्पतिवार को राजमार्ग को बहाल किया जा सकता है। इसलिए, केदारनाथ जाने वाले व दर्शन कर लौटने वाले यात्रियों को नजदीकी स्थानों पर रुकने के लिए कहा जा रहा है। साथ ही जिला मुख्यालय रुद्रप्रयाग, तिलवाड़ा, अगस्त्यमुनि के साथ काकड़ागाड़ में भी यात्रियों को हाईवे बंद होने के बारे में जानकारी दी जा रही है, जिससे वह वहीं रूक जाएं। साथ ही जिन यात्रियों के गुप्तकाशी में होटल, रेस्टोरेंट में बुकिंग हैं, उन्हें जाने दिया जा रहा है।

Show More

Related Articles

Back to top button
उत्तराखंड
राज्य
वीडियो